Help Line +91 9794100006, +91 8802752786
For Assistance Contact : Rahul Chaturvedi - 7905703214, Mohammad Gufran Khan - 8604940035, Ganesh Vishwakarma - 9450890009
Digital

एम आर अंसारी
संस्थापक/राष्ट्रीय अध्यक्ष

एक संदेश राष्ट्र के नाम

विश्व मानवाधिकार परिषद एक सामाजिक ट्रस्ट है जिसका पंजीकरण भारतीय न्यास अधिनियम 1882 के अन्तर्गत पंजीकृत किया गया है। यह एक ग़ैर-सरकारी, ग़ैर-राजनैजिक राष्ट्रीय संगठन है। हमारा कार्य समाज के लोगों को जागरूक करना औऱ आम जनता के अधिकारों के हो रहे हनन औऱ समाज फैले भ्रष्टाचार को उजागार करते हुए शासन प्रसासन को अवगत करना मुख्य उद्देश्य है क्योंकि आज हमारे भारतवर्ष ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण विश्व में मानव अधिकार की घटनाएं निरन्तर बढ़ती जा रही हैं जिसमें मानव उत्पीड़न, महिला उत्पीड़न, यौन शोषण एवं बाल श्रम जैसी घटनाऐं प्रमुख हैं। जेल में बन्द कैदियों की स्थित दयनीय एवं चिन्ताजनक है। देश में भ्रष्टाचार, साम्प्रदायिकता, जातिवाद, भाषावाद जैसी समस्याऐं दिन पर दिन विकराल रूप धारण करती जा रही हैं।आज़ादी के 71 वर्ष बीत जाने के बाद भी आज भी अधिकांश भारतवासी बेहतर शिक्षा, भोजन, स्वास्थ, आवास, शुद्ध पेयजल, न्याय, समानता और विकास जैसी मूलभूत सुविधाओं से वंचित है।हमारे संविधान में जाति, धर्म, वंश मूल, लिंग, अमीरी, गरीबी, शिक्षित-अशिक्षित किसी भी प्रकार का विभेद नहीं किया गया है। संविधान में देश के प्रत्येक व्यक्ति को दैहिक एवं प्रकृतिक स्वतन्त्रता के अधिकार के साथ ही साथ गरिमामय जीवन यापन करने की भावना निहित की गयी है। इसको व्यवहारिक रूप से लाने के लिए संविधान में विधायिका, न्यायपालिका एवं कार्यपालिका की व्यवस्था की गयी है। इसी आधार पर हमारे देश का संविधान विश्व का सर्वश्रेष्ठ संविधान माना जाता है।परन्तु विडम्बना यह है कि इसका लाभ आम आदमी को नहीं मिल पा रहा है। सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या भारतवर्ष के प्रत्येक नागरिक को सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय मिल सका है? गाँव मोहल्लों में सफाई नहीं होती, राशन की दुकान में सामान सही से नहीं मिलता, सरकारी दफ्तरों में बिना सुविधा शुल्क के काम नहीं होता, अस्पतालों में दवाईयां नहीं मिलतीं, डाक्टर नर्स मरीजों पर ध्यान नहीं देते, सड़कें टूटी फूटी हैं, ग्राम-स्तर के अधिकारी से लेकर राजनेता सांसद,विधायक, मंत्री तक ध्यान नहीं देते, गाँवों एवं पिछड़े इलाकों में बिजली ठीक से नहीं मिलती। इन सब समस्याओं के निराकरण के लिए हमारा संगठन प्रयासरत है तथा इन उद्देश्यों की पूर्ति हेतु संगठन का गठन किया गया।हमारा कार्य लोगों को जागरूक करना है। हम किसी भी सरकारी योजनाओं का संचालन नहीं करते हैं। हमने किसी भी व्यक्ति को संगठन की ओर से चन्दा इकट्ठा करने को अधिकृत नहीं किया है क्योंकि संगठन किसी भी प्रकार का चन्दा नहीं लेता है। संगठन अपने सदस्यों के सहयोग से अपनी गतिविधियां संचालित करता है। अगर आप अपना कार्य किसी व्यक्ति के माध्यम से हमारे कार्यालय भेज रहे हैं तो इस बात का ध्यान रहे कि वह व्यक्ति आपका विश्वस्त हो। किसी भी तरह की जानकारी के लिए संगठन के पदाधिकारियों से सम्पर्क करें जो आपकी निःस्वार्थ भाव से आपकी पूरी मदद करेंगे जिससे आपकी आवाज को हम अपने संगठन के माध्यम से शासन प्रसासन से लेकर राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहुचा सके मानव सेवा ही संगठन का मुख्य उद्देश्य है।

जय हिंद जय भारत

एम आर अंसारी
संस्थापक/राष्ट्रीय अध्यक्ष

Manifesto

Vishwa Manavadhikar Parishad Manifesto
विश्व मानवाधिकार परिषद, मानव अधिकारों की रक्षा हेतु आपको शपथ लेने के लिए आमंत्रित करता है
Click Here For Pledge

Our Aims and object


The Aims and objects of the Organization are as follows:-

1. To promote prosperity, progress and welfare of the general public

2. To provide aid, relief, needy and deserving windows, orphans, students, children, aged sick, mentally retarded, physically handicapped and visually disable persons, for their uplift, maintenance, rehabilitation, person’s services according to requirement and needs of such persons.

3. To organize movements of children and youth clubs through lectures, seminars, cultural programmers, so as to enucleate in them the spirit of social services human values, simple living and high standard of moral character.

Our Social Cause in short Video

Important notice All the officials of the World Human Rights Council organization are directed to celebrate Human Rights Day on 10th of December on the occasion of Human Rights Day to make the general public aware of their rights, what rights do the common people have, so that they can not be harmed by their rights.

We Welcome You !!

विश्व मानवाधिकार परिषद एक सामाजिक ट्रस्ट है जिसका पंजीकरण भारतीय न्यास अधिनियम 1882 के अन्तर्गत पंजीकृत किया गया है। यह एक ग़ैर-सरकारी, ग़ैर-राजनैजिक राष्ट्रीय संगठन है। हमारा कार्य समाज के लोगों को जागरूक करना है और उनकी आवाज को शासन प्रशासन तक पहुचॉना ।राष्ट्रीय अध्यक्ष एंव उसके द्वारा अधिकत पदाधिकारी को ही सिर्फ नया सदस्य बनाने/नवीनीकरण/निरस्त करने का अधिकार है। किसी भी पोस्ट/पद/या मेम्बर के लिए किसी राष्ट्रीय पदाधिकारी/ज़ोनल पदाधिकारी/प्रदेश अध्यक्ष या प्रदेश पदाधिकारी/मण्डल अध्यक्ष/पदाधिकारी/ज़िला, नगर,तहसील ब्लॉक, अध्यक्ष या पदाधिकारी आपको मनोनय पत्र या आई0डी0 कार्ड देते हैं तो पत्र/आई0डी0 कार्ड लेने वाले मेम्बर इन नम्बर पर अपने पत्र और आई0डी0 सुख्या सूचित करें या व्हॉट्सऐप करें, 09454110126/09794100006 या मेल करें या जिससे सदस्य के पत्र और पहचान पत्र को सत्यापित किया जा सके । जिससे कोई कार्ड लेटर फर्जी न जारी कर सके और पूरी बारीकी से नज़र रखी जा सके।

जय हिंद जय भारत

एम आर अंसारी
संस्थापक/राष्ट्रीय अध्यक्ष

We Request You To Donate For Social Cause
Donate Now


Events and Updates

Slide4 Image